हरिद्वार। जिले के थाना भगवानपुर क्षेत्र में विगत दिनों घटित घटना 13 वर्ष नाबालिक ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री का पुलिस कप्तान ने खुलासा कर दिया है, पुलिस जांच में सामने आया कि अभियुक्त ने अपने अवैध संबंध छिपाने के लिए नाबालिक कार्तिक की हत्या की थी।

क्या था पूरा मामला.

23 फरवरी 24 को खुब्बनपुर भगवानपुर निवासी सरदार सिंह ने अपने 13 वर्षीय नाबालिक बेटे कार्तिक की गुमशुदगी दर्ज कराई थी नाबालिक की तलाश के दौरान पुलिस टीम को गन्ने के खेत से नाबालिक का शव बरामद हुआ था।
नाबालिक के शव मिलने पर पुलिस ने मुकदमा गुमशुदगी को धारा 302 में तरमीम कर मामले की जांच शुरू कर दी थी।

मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी हरिद्वार प्रमेद्र डोबाल ने स्वयं मॉनिटरिंग करते हुए सीओ मंगलौर के नेतृत्व में 04 टीमों का गठन किया गया। 2 टीमों द्वारा घटनास्थल के आसपास के व गांव खुब्बनपुर के सभी सीसीटीवी फुटैज खंगाले व 02 टीमों द्वारा मैनुअल सुरागरसी पतारसी की ।

आखिर पुलिस के हाथ कैसे पहुंचें कातिल की गर्दन तक

जांच के दौरान पुलिस को पता चला की घटना के दिन गांव में दो शादियां थी दोनो शादियों की वीडियो फुटेज खंगालने पर मृतक कार्तिक दिन की शादी में शामिल दिखा लेकिन रात की शादी में किसी वीडियो में दिखाई नही दिया। पुलिस ने इसके बाद सैकड़ों लोगों से पूछताछ कर पुनः गांव के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को चेक कर गहनता से चेक करने व बाहरी व्यक्तियों के सत्यापन करने हेतु निर्देशित किया गया जिसका सफल परिणाम निकला।

गांव के एक कैमरे में मृतक कार्तिक एक व्यक्ति के साथ गांव से बाहर को जाने वाले मुख्य रास्ते पर जाता दिखाई दिया। जिसकी पहचान नहीं हो पा रही थी। जिस पर टीम द्वारा उक्त फुटेज को गांव के लोगों को दिखा कर उसके कपड़ों व चलने के ढंग से उसकी पहचान करने की कोशिश की गई। लगभग 70, 80 व्यक्तियों का सत्यापन कर गहनता से पूछताछ करने पर यह बात प्रकाश में आयी की यह व्यक्ति दिन में कंपनी में काम करता है इस आधार पर अलग-अलग पुलिस टीमों द्वारा माहडी चौक के पास की फैक्ट्री में सत्यापन किया गया जिसमें कई संदिग्ध प्रकाश में आए। जिसमें एक नाम अजय शर्मा ज्यादा संदिग्ध निकला जो खुब्बनपुर में किराए पर रहता है।

तत्पश्चात पुलिस टीम ने अजय शर्मा को गांव में तलाश किया गया परन्तु उक्त व्यक्ति गांव में नही मिला जिसको पुलिस टीम द्वारा दिनांक 15.03.2024 को अमोरवेट कम्पनी को जाने वाले रास्ते से धर दबोचा।

अवैध संबंध को छुपाने के लिए अभियुक्त ने घटना को दिया अंजाम

अजय शर्मा निवासी अथाई जिला मुज्जफरनगर अपने माता पिता व दो बच्चो के साथ ग्राम खुब्बनपुर में पिछले 6 माह से अपने रिश्तेदार राजीव शर्मा के यंहा किराये पर रह रहा है और उसकी पत्नी का देहांत वर्ष 2020 में हो चुका था वह अपने जानकार के माध्यम से एक औरत को दिनांक 18.02.2024 को माहडी चौक से साथ लेकर ग्राम खुब्बनपुर में गन्ने के खेत में लेकर गया जहां पर मृतक कार्तिक ने उसे देख लिया था कार्तिक व अभियुक्त के बेटे के बीच दोस्ती होने से खुद की पोल खुलने व बदनामी के डर से अभियुक्त ने मृतक कार्तिक को पैसों का लालच देकर बुलाया और उसकी हत्या कर दी।

Share.

गुलशन आजाद, एक युवा पत्रकार है। जो अपराध एवं राजनितिक समेत समायिकी मुद्दो पर बिट करते है, पिछले 4 वर्षों से पत्रकारिता क्षेत्र में अपने योगदान से समाज को जागरूक करने में सक्रिय रहे हैं।

Contact is protected!