हरीद्वार । जिले के लक्सर क्षेत्र में अशोक सैनी हत्याकांड ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश पैदा कर दिया है। सैनी के परिजनों और सैनी समाज का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है, क्योंकि हत्याकांड के तीन आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। परिजनों ने चेतावनी दी है कि यदि 12 जुलाई तक पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो वे लक्सर कोतवाली में धरना देंगे और आत्मदाह करेंगे।

घटना के अनुसार, लक्सर कोतवाली क्षेत्र के बहादुरपुर गांव में जमीनी विवाद के चलते दो पक्षों में झगड़ा हुआ, जिसमें एक पक्ष ने अशोक सैनी पर लाठी-डंडों से हमला कर घायल कर दिया था। इलाज के दौरान अशोक सैनी की मौत हो गई थी, जिससे परिजनों और सैनी समाज में रोष फैल गया था। परिजनों ने मृतक की डेड बॉडी को लेकर कोतवाली का घेराव कर पुलिस पर आरोप लगाते हुए चौकी इंचार्ज को सस्पेंड करने की मांग की थी पुलिस अधिकारियों ने लक्सर बाजार चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर किया था, लेकिन आज भी तीन आरोपी फरार हैं।

अशोक सैनी के परिजनों ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पुलिस न तो सभी आरोपियों को पकड़ पाई है और न ही लूटी गई लाइसेंसी पिस्टल बरामद कर पाई है। परिजनों ने साफ किया है कि यदि तीन दिनों के भीतर कोई कार्रवाई नहीं होती है, तो वे लक्सर कोतवाली में धरना देंगे और आत्मदाह की चेतावनी को साकार करेंगे। उनका कहना है कि न्याय मिलने तक वे संघर्ष जारी रखेंगे।

Share.